Archives for Gods

Featured

आखिर बगलामुखी मां ने शत्रु की जुबान क्यों पकड़ी है,जानिए राज

देवी बगलामुखी, समुद्र के मध्य में स्थित मणिमय द्वीप में अमूल्य रत्नों से सुसज्जित सिंहासन पर विराजमान हैं। देवी त्रिनेत्रा हैं, मस्तक पर अर्ध चन्द्र धारण करती है, पीले शारीरिक…
Continue Reading
Featured

हिंदू धर्म के प्रमुख नाग । क्या आप इनको जानते है ?

बहुत प्राचीनकाल में लोग हिमालय के आसपास ही रहते थे। वेद और महाभारत पढ़ने पर हमें पता चलता है कि आदिकाल में प्रमुख रूप से ये जातियां थीं- देव, दैत्य,…
Continue Reading
Gods

गणेश जी की मूर्ति खरीदते समय रखें इन बातों का ध्यान, नहीं होगी धन की कमी

भारतीय पंरपराओं में सभी त्यौहार बड़े प्यार और चाव से मनाए जाते हैं। इसी तरह गणेश चतुर्थी के इस मौके पर सभी लोग अपने घरों में गणपति जी की मूर्ति…
Continue Reading
Festivals

गणेश पुराण में वर्णित अंगारकी चतुर्थी की कथा

पृथ्वीदेवी ने महामुनि भरद्वाज के जपापुष्प तुल्य अरुण पुत्र का पालन किया। 7 वर्ष के बाद उन्होंने उसे महर्षि के पास पहुंचा दिया। महर्षि ने अत्यंत प्रसन्न होकर अपने पुत्र…
Continue Reading
Gods

अनिष्ट का भय सताए तो हनुमान जी का यह दिव्य उपाय आजमाएं

आसन बांधू, वासन बांधू, बांधू अपनी काया। चारि खूंट धरती के बांधू हनुमत! तोर दोहाई।।   हनुमानजी के मंदिर के समीप स्थित बरगद या पीपल के वृक्ष की छोटी-छोटी चार…
Continue Reading
Featured

हनुमान जयंती : कैसे करे पूजा

हनुमान जयंती को पूरे भारत में बड़े ही उल्लासपूर्ण और उत्साह के साथ मनाया जाता है। इस दिन न सिर्फ हनुमानजी की पूजा होती है बल्कि श्रीराम और सीताजी का भी पूजन-स्मरण…
Continue Reading
Festivals

आज है मदन द्वादशी जाने क्‍या है ये पर्व और इसकी व्रत कथा

क्‍या है मदन द्वादशी पर्व  हिंदू माह के अनुसार चैत्र महीने के शुक्‍ल पक्ष की द्वादशी को मदन द्वादशी कहते हैं। इस व्रत में काम के पूजन की प्रधानता होती…
Continue Reading
Festivals

महावीर जयंती

देशभर में अाज महावीर जयंती मनाई जा रही है। महावीर जयंती जैन समुदाय का सबसे बड़ा पर्व माना जाता है। इस अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अौर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी…
Continue Reading
Featured

महाशिवरात्रि पर पढ़ें महाकालेश्वर की पवित्र गाथा

'अनेकानेक प्राचीन वांग्मय महाकाल की व्यापक महिमा से आपूरित हैं क्योंकि वे कालखंड, काल सीमा, काल-विभाजन आदि के प्रथम उपदेशक व अधिष्ठाता हैं। अवन्तिकायां विहितावतारं मुक्ति प्रदानाय च सज्जनानाम्‌ अकालमृत्योः…
Continue Reading
Skip to toolbar