24 घंटे हैं शुभ कार्यों का समय
वैशाख शुक्ल पक्ष तृतीया को ही अक्षय तृतीया कहते हैं। इस बार अक्षय तृतीया का महापर्व 18 अप्रैल को है। इस दिन मांगलिक कार्य, मुंडन, शादी विवाह, बहू का प्रथम बार रसोई स्पर्श, दुकान का उद्घाटन, व्यापार का प्रारंभ और सारे शुभ कार्य किए जाते हैं।
18 अप्रैल को अक्षय तृतीया सुबह 04:47 बजे से प्रारंभ होगी और रात्रि 03:03 मिनट तक इसका मुहूर्त रहेगा।

इस अक्षय तृतीया के अवसर पे आप कोई भी शुभ काम कर सकते है |

– सोना, वाहन इत्यादि खरीदना।
– शादी इत्यादि
– किसी बिजिनेस की शुरवात
– बड़ी डील करना
– किताबे खरीदना
– कोर्ट कचेरी के मामले सुलझाना